स्टॉक मार्केट क्या है – स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई

0
93

स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई

आज हम बात करेंगे स्टॉक मार्केट के बारे में और स्टॉक मार्केट के प्रकार के बारे में  स्टॉक मार्केट में किसी भी तरह शुरुआत से पहले एक नए आदमी के मन में अक्सर यह

स्टॉक मार्केट क्या है

दो प्रश्न जरूर आते हैं

1. आखिर स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई।

2. आखिर स्टॉक मार्केट की जरूरत क्यों है।

मेरे ख्याल से आप भी इन सवालों के जवाब जरूर जानना चाहते होंगे अगर ऐसा है तो आप हमारे साथ बने रहे क्योंकि आज हम इन्हीं दोनों सवालों के जवाब बिल्कुल आसान भाषा में समझने की कोशिश करेंगे कि आखिर स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई और इसकी जरूरत क्यों है आइए पहले देखते हैं कि स्टॉक मार्केट क्या है स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई और इसकी जरूरत क्यों है तो आपने एक हिंदी की बहुत मशहूर कहावत जरूर सुनी होगी की आवश्यकता ही आविष्कार की जननी होती है

स्टॉक मार्केट का जन्म

स्टॉक मार्केट क्या है

स्टॉक मार्केट का जन्म यानी इसकी शुरुआत के पीछे भी एक बहुत बड़ी आवश्यकता थी और इस आवश्यकता का नाम है पूंजी की आवश्यकता एक बिजनेस को बड़े पैमाने पर चलाने के लिए बहुत बड़ी मात्रा में पूंजी की आवश्यकता के कारण ही स्टॉक मार्केट की शुरुआत हुई थी जी हां दोस्तों जब भी किसी कंपनी को अपने बिजनेस बहुत बड़े पैमाने पर बढ़ाना होता है तो उन्हें बहुत ज्यादा पैसों की जरूरत यानी पूंजी की जरूरत होती है

ऐसे में इन कंपनियों के पास अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए पूंजी के रूप में पैसे इकट्ठे करने के अलग-अलग विकल्प होते हैं पहला विकल्प है किसी बैंक से लोन लेना दूसरा विकल्प है ऐसे पूंजीपतियों लोन लेना जिनके पास बहुत सारा पैसा हो और तीसरा विकल्प है स्टॉक मार्केट जिसे हम कैपिटल मार्केट भी कहते हैं स्टॉक मार्केट में अपने शेयर को बेचकर भी पूंजी इकट्ठा की जा सकती है आइए इन तीनों विकल्पों को थोड़ी बारीकी से जानते हैं अब जो पहला विकल्प है

बैंक लोन

दोस्तों बैंक हमेशा ब्याज पर ही पैसा देती है और एक नए बिजनेस के लिए जोकि बहुत कम लाभ कमा पाती है और कभी-कभी उसे लॉस भी होता रहता है ऐसे में बैंक का ब्याज एक नए बिजनेस के लिए बहुत बड़ा कर्ज बन जाता है और कंपनी के ऊपर बैंक का पैसा चुकाने का दबाव बना रहता है इसलिए कंपनियां अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए बहुत ज्यादा लोन नहीं ले सकती अब जो दूसरा विकल्प है किसी पूज्य पति से कर्ज लेना और बिजनेस करना

वेंचर capitalist

इस विकल्प में भी किसी पूज पति से लोन लेने पर उसे पूज पति को ब्याज चुकाना होता है या फिर लाभ में निश्चित हिस्सा देना पड़ता है और इस तरह कंपनी के ऊपर हमेशा कर्ज चुकाने का दबाव बना रहता है और ऐसे में कंपनी बहुत बड़े पैमाने पर अपना काम नहीं कर पाती हैं जब पूंजी की आवश्यकता के लिए मात्रा बहुत ज्यादा होती है यह एक बेहतर विकल्प नहीं मारा जाता है अब आता है तीसरा और सबसे बड़ा विकल्प

स्टॉक मार्केट यानी कैपिटल मार्केट

जहां पैसे यानी कैपिटल ग्रुप में आप पूंजी इकट्ठा कर सकते हैं अब ऐसे में स्टॉक मार्केट ही एक कंपनी के लिए सबसे बेहतर विकल्प होता है जब उसे ज्यादा पूंजी की जरूरत होती है जहां से कंपनी कुछ लीगल प्रोसेस को कंप्लीट करके अपनी जरूरत के मुताबिक पूजी प्राप्त कर सकती है और पूंजी को वापस करने का कंपनी के ऊपर कोई भी दबाव नहीं होता और ना ही किसी तरह का ब्याज देने का बोझ होता है अगर कंपनी स्टॉक मार्केट मैं अपने स्टॉक बेचकर पूंजी इकट्ठा करती है

स्टॉक मार्केट क्या है

तो कंपनी अपने फ्यूचर ग्रोथ के प्लान के हिसाब से काम कर सकती है और अपने आप बिजनेस बड़े पैमाने पर कर सकती है दोस्तों इस तरह स्टॉक मार्केट हमारी आज के अर्थव्यवस्था के सबसे बड़ी जरूरत है जिसकी वजह से सभी बड़ी कंपनियां इतने बड़े पैमाने पर बिजनेस कर पाती है आज हम जितने भी बड़ी कंपनी को देखते हैं जैसे गोदरेज, बजाज, रिलायंस, उषा, युनिलीवर, टाटा, कोलगेट, एशियन पेंट, नेशनल इंडिया, और ऐसे में बहुत सारे कंपनियों की लंबी लिस्ट है जो अपनी बिजनेस को ज्यादा बढ़ाने के लिए उनकी भी आवश्यकता को सिर्फ और सिर्फ स्टॉक मार्केट से पूरा करते हैं

अगर आप देखें की स्टॉक मार्केट की जरूरत क्यों है तो इसका सीधा सा उत्तर है की स्टॉक मार्केट की जरूरत इसलिए है क्योंकि कोई भी कंपनी अपनी बिजनेस को बढ़ाने के लिए जब उसे भारी मात्रा में पूंजी की आवश्यकता होती है तो वह आवश्यकता उसकी स्टॉक मार्केट से ही पूरी हो सकती है स्टॉक मार्केट के बिना किसी भी कंपनी को भारी मात्रा में पूंजी इकट्ठा कर पाना संभव नहीं हो पाता है आइए अब हम समझते हैं कि स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई

स्टॉक मार्केट की शुरुआत 

दोस्तों सन पंद्रह सौ से सोलह सौ के आसपास जब यूरोप के व्यापारी दूसरे देशों से पानी की जहाज के मदद से व्यापार किया करते थे तो उन्हें बहुत फायदा होता था क्योंकि दूसरे देशों से सस्ता सामान खरीदते थे और अपने देश मैं उसे ज्यादा लाभ के साथ बेच सकते थे लेकिन कभी-कभी समंदर में जहाज डूब जाने या रास्ते में चोरी हो जाने से उनको भारी नुकसान भी होता था

और ऐसे में जिन व्यापारियों का जहाज डूब जाता था या चोरी हो जाती थी उनको बहुत अधिक नुकसान हो जाता था और उनके पास फिर से व्यापार करने के लिए पूंजी कि हमेशा बहुत कमी रहती थी व्यापारियों ने पूंजी की कमी को पूरा करने के लिए एक योजना तैयार किया उन्होंने हर व्यापारिक समुद्री यात्रा के हिसाब से एक कंपनी बनाई जिसमें वह बहुत सारे
लोगों से अलग-अलग पैसा ले लेते थे और जब जहाज लौटकर आता था

तो वे माल बेचकर जो भी लाभ होता था वह उन लोगों में बांट दिया जाता था जिन्होंने पैसा लगाया होता था और इस कंपनी को बंद कर दिया जाता था यहां परेशानी यह थी कि जब भी कोई जहाज डूब जाता था तो वे लोग जो पैसा लगाए होते थे दुबारा पैसा नहीं लगाना चाहते थे अब ऐसे में बहुत सारे प्रॉब्लम आते हैं और उनका व्यापारियों ने हल निकालना जारी रखा और धीमे-धीमे ज्वाइंट स्टॉक कंपनी की शुरुआत हुई इसमें पूंजी के रूप में कोई भी पैसे लगा सकता था

जिसमें एक प्रमुख कंपनी थे ईस्ट इंडिया कंपनी ज्वाइंट स्टॉक कंपनी में बहुत सारे लोगों के पैसे लगे होते थे और कंपनी अपने व्यापार से जो लाभ कमाती थे वह इन निवेशकों में बांट देती थी और फिर धीमे-धीमे जो भी प्रॉब्लम आते गए उनका सलूशन निकालते गए फैमिली एक स्टॉक मार्केट बन गया स्टॉक मार्केट जहां हर कंपनी अपना बिजनेस करना चाहती है

और उससे अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए बहुत बड़ी मात्रा में पूजी की आवश्यकता होती है तो वे कंपनी स्टॉक मार्केट से अपनी इस पूजी की आवश्यकता को पूरी कर सकती हैं और जो लोग इन कंपनी में पूजी लगाते हैं उन्हें उस स्टॉक के बदले उन्हें उस पूजी के बदले कंपनी का स्टॉक यानी कंपनी मैं पैसा मिल जाता है और कंपनी के व्यापार जैसे जैसे बढ़ता है उस स्टॉक की कीमत भी बढ़ती जाती है और ऐसे में जिन लोगों के पास यह स्टॉक होते हैं

वह उन स्टॉक को स्टॉक मार्केट में बिना कंपनी से पूछे स्टॉक बेचकर लाभ कमा सकते हैं और इस तरह स्टॉक मार्केट कंपनी और कंपनी में पैसा लगाने वाले दोनों के लिए बहुत फायदेमंद है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सब समझ पाए होंगे कि स्टॉक मार्केट की शुरुआत कैसे हुई और सबसे बड़ी बात स्टॉक मार्केट की जरूरत क्यों है

दोस्तों स्टॉक मार्केट संबंधित बहुत सारी जानकारी आप हमारे वेबसाइट ज्ञान नेटवर्क भी पढ़ सकते हैं नीचे डिस्क्रिप्शन में आपको वेबसाइट का लिंक मिल जाएगा अगर आप को ये आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इसे जरूर लाइक करें और अपनी राय कमेंट में जरूर बताएं धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here